बुधवार, 19 सितंबर 2012

Rahul, Zubin, Alexander skit

Shopping/bargaining skit

1 टिप्पणी:

  1. यह सकित अच्छी है लेकिन उसे और जोरे से बोलना चाहिए.

    उत्तर देंहटाएं